Sun. Nov 27th, 2022
vaccine technology:वैक्सीन की टेक्नोलॉजी पर विवाद, Moderna ने Pfizer पर लगाया चोरी का आरोप; मुकदमा दर्ज
Spread the love

कोरोना Vaccine निर्माता कंपनी Moderna ने दावा किया है कि Pfizer-Biontech ने जो कोरोना बीमारी के खिलाफ m-RNA वैक्सीन का निर्माण है, वो Moderna की टेक्नोलॉजी को कॉपी करके बनाई गयी है.vaccine technology:वैक्सीन की टेक्नोलॉजी पर विवाद, Moderna ने Pfizer पर लगाया चोरी का आरोप; मुकदमा दर्ज

वैक्सीन पेटेंट विवाद:

कोरोना वैक्सीन निर्माता कंपनी Moderna ने Pfizer-Biontech के खिलाफ america औरjarmny की अदालतों में केस करा दिया. Moderna ने दावा है कि Pfizer-Biontech ने जो कोरोना के खिलाफ m-RNA वैक्सीन का निर्माण है, वो Moderna की टेक्नोलॉजी कॉपी करके बनाई गयी है.

Moderna ने पहले ही कराया पेटेंट:

Moderna के मुताबिक m-RNA वैक्सीन का निर्माण करने वाली जिस टेक्नोलॉजी को साल 2010 से 2016 के बीच में उसने पेटेंट करवाया था. उसके द्वारा ही Pfizer-Biontech ने बिना moderna की इजाजत के अपनी वैक्सीन Comirnaty का निर्माण किया था.

इसी टेक्नोलॉजी से बनी है Spikevax

साथ ही Moderna ने बताया कि कोरोना के खिलाफ बनाई गई उसकी वैक्सीन Spikevax इसी टेक्नोलॉजी से बनी है. अपने जारी किए गए बयान में Moderna ने कहा कि कोरोना काल के एक दशक पहले ही Moderna ने अरबों डॉलर खर्च कर इस टेक्नोलॉजी को इजाद किया था और पेटेंट करवाया था. लेकिन कोरोना महामारी के दौरान Pfizer-Biontech ने उसकी टेक्नोलॉजी चोरी करके अपनी वैक्सीन बना ली.

INS Vikrant: 262 मीटर लंबा, 15 मंजिल ऊंचा और 45 हजार टन 4 वजन वाले समुंदर के ‘बाहुबली’ INS विक्रांत की खासियत

Moderna ने साफ की ये बात

अपने बयान में Moderna ने यह भी साफ किया कि वो यह नहीं चाहती कि Pfizer-Biontech की वैक्सीन Comirnaty बाजार से हटाई जाए या फिर भविष्य में इसके निर्माण या इसे बेचने पर रोक लगे.

vaccine technology:वैक्सीन की टेक्नोलॉजी पर विवाद, Moderna ने Pfizer पर लगाया चोरी का आरोप; मुकदमा दर्ज                                covid vaccine patent dispute moderna sues pfizer biontech for patent infringement 1661525209

वैक्सीन की टेक्नोलॉजी पर विवाद

वैक्सीन की टेक्नोलॉजी पर विवाद केसे शुरू हुआ, Moderna के मुताबिक Pfizer-Biontech ने वैक्सीन के निर्माण में 2 तरीके moderna द्वारा पेटेंट की गई तकनीक के चुराए थे. Moderna के मुताबिक m-RNA वैक्सीन के निर्माण में जिन कैमिकलों को moderna ने साल 2010 में इजाद किया था ताकि m-RNA वैक्सीन लगने के बाद शरीर गैरजरूरी प्रतिरोधक प्रतिक्रिया ना दे उन्हीं कैमिकलों का प्रयोग Pfizer-Biontech ने अपनी कोरोना वैक्सीन में किया था जबकि m-RNA वैक्सीन में इन कैमिकलों के प्रयोग को MODERNA पहले ही पेटेंट करवा चुकी थी.

Moderna के मुताबिक Pfizer-Biontech के पास m-RNA कोरोना वैक्सीन बनाने के कई विकल्प थे. लेकिन उसने कोरोना वायरस के पूर्ण लंबाई वाले स्पाइक प्रोटीन को लिपिड नैनोपार्टिकल फॉर्मूलेशन में एन्कोड किया. इस टेक्नोलॉजी को भी moderna पेटेंट करवा चुकी थी और वर्षों पहले moderna ने जो Middle East Respiratory Syndrome (MERS) की वैक्सीन बनवाई थी उसमें उसका प्रयोग किया था.

UGC की नई गाइडलाइन: एक साथ दो कोर्स कर सकेंगे स्टूडेंट्स, कोर्स छोड़ने के बाद फिर पढ़ने की छूट

By Nishant