Sun. Dec 4th, 2022
lambi
Spread the love

समूचे राजस्थान के बाद ये रोग अब हरियाणा में भी पैर पसार चुका है

हरियाणा में लंपी वायरस का प्रकोप खौफनाक तरीके से लगातार बढ़ता जा रहा है. पूरे प्रदेश में इस रोग के फैलने की खबर आ रही है. अकेले फतेहाबाद जिले में लंपी वायरस से 20 गायों की मौत हो चुकी है.

वहीं हिसार में भी इस रोग का कहर जारी है यहाँ कम से कम 40 गायों की मौत के समाचार हैं. बात करें अगर सिरसा जिले की तो यहाँ अबतक 147 गौवंश की मौत हो चुकी है. फतेहाबाद में 174 और गायों में संक्रमण मिला है. जिससे संक्रमित पशुओ की संख्या बढ़कर 1487 हो गई है.

पशुपालन विभाग लगातार लंपी वायरस पर नजर बनाये हुए है. सिरसा जिले में इस वायरस से संक्रमितों पशुओं की संख्या बढ़कर 5404 हो गई है. पशुपालन विभाग द्वारा तेज़ी से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है. विभाग द्वारा जिले में अब तक 25300 पशुओं का टीकाकरण किया जा चुका है.

लंपी स्किन डिजीज बीमारी की रोकथाम को लेकर जारी किए गए निर्देशानुसार शहरी और ग्रामीण इलाके में फोगिंग का कार्य शुरू कर दिया गया है. फतेहाबाद में लंपी बीमारी की रोकथाम को लेकर डीसी प्रदीप कुमार ने स्थानीय शहरी निकाय, विकास एवं पंचायत विभाग और पशुपालन विभाग को अपने-अपने इलाकों में फोगिंग करवाने के निर्देश जारी किए हैं. जिला के सभी उपमंडलों, खंडों, गांवों में दवाई का छिड़काव जोरों से किया जा रहा है.

ये भी पढ़े :  हरियाणा : पुलिस के हत्थे चढ़ा ऐसा अपराधी जिसके कारनामे सुनकर सब रह गए दंग
lumpy skin disease
सभी गायों में ये रोग खतरनाक तरीके से बढ़ता ही जा रहा है

खंड फतेहाबाद की गोशाला के गांव बड़ोपल, गोरखपुर, बीघड़ गौशाला, धांगड़, भिरड़ाना, भोडा होसनाक, खंड भूना की गोशाला के गांव नाढोडी, खंड रतिया में लाली रोड, मंडी रतिया, सहनाल रोड, बबनपुर, खंड नागपुर की गौशाला के गांव भड़ोलावाली, खंड टोहाना की गौशाला के गांव इन्दाछोई, ठरवी, धारसूल कलां तथा भट्टू कलां सहित अन्य खंड की सभी गोशाला में फोगिंग का कार्य शुरू कर दिया गया है.

By Nishant