Sun. Dec 4th, 2022
भाजपा नेत्री सीमा पात्रा ने घर में कैद करके रखा:सुनीता बोली- जीभ से फर्श साफ करवाया, पेशाब पिलाई; सालों से सूरज की रोशनी नहीं देखी
Spread the love

सीमा पात्रा ने घर में कैद करके रखा ;बीजेपी महिला नेता को पार्टी ने किया निष्काषित 

Seema Patra भाजपा की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य थीं। उनके पति महेश्वर पात्रा एक सेवानिवृत्त IAS अधिकारी हैं।

                                  सीमा पात्रा ने घर में कैद करके रखा ;बीजेपी महिला नेता को पार्टी ने किया निष्काषित 

29 साल की सुनीता झारखंड के गुमला की रहने वाली हैं और करीब 10 साल पहले उसे पात्रा परिवार ने नौकरी पर रखा था

रांची

भारतीय जनता  पार्टी  ने आज झारखंड की अपनी एक नेता सीमा पात्रा को पार्टी से निलंबित कर दिया है.राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य थींसीमा पात्रा पर आरोप है कि उन्होंने अपनी घरेलू नौकरानी को घर में बंद कर बेरहमी से प्रताड़ित किया. पात्रा भाजपा की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य थीं. उनके पति महेश्वर पात्रा एक सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी हैं. झारखंड भाजपा प्रमुख दीपक प्रकाश ने सुश्री पात्रा के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया, जब उनकी घरेलू सहायिका ने उन पर अत्याचार का आरोप लगाते हुए वीडियो वायरल किया.

ऱोंगटे खड़े करने वाले इस वीडियो में पीड़ित महिला सुनीता अस्पताल के बिस्तर पर नजर आ रही है. उसके कई दांत टूट चुके हैं. वह बैठने में भी असमर्थ है. स्थानीय मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि उसके शरीर पर चोट के निशान ये बताते हैं कि उस पर बार बार बमला किया गया. वीडियो देखने के बाद कई लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है और भाजपा महिला नेता की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं.

 

Capturehfhhhfdy

 

29 साल की सुनीता झारखंड के गुमला की रहने वाली हैं. करीब 10 साल पहले उसे पात्रा परिवार ने नौकरी दी थी. उनकी बेटी वत्सला काम के सिलसिले में दिल्ली जा रही थी और सुनीता उसकी मदद के लिए साथ गई. करीब चार साल पहले वत्सला और सुनीता रांची लौटे थे.

सुनीता ने आरोप लगाया है कि अगले छह वर्षों के दौरान सीमा पात्रा द्वारा उसे क्रूर यातनाएं दी गईं. भारी दर्द के बीच बोलते हुए, सुनीता वीडियो में याद करती है कि उसे गर्म तवे और डंडों से पीटा गया था और उसके दांत टूट गए थे. उसे फर्श से पेशाब चाटने के लिए भी कहा गया. सुनीता ने कहा कि उन्हें ‘सजा’ देकर प्रताड़ित किया गया था, लेकिन उसे खुद ये नहीं पता था कि उसकी गलतियां क्या थीं.

                                          ranchi news

महिला का कहना है कि सीमा पात्रा के बेटे आयुष्मान ने उनकी मदद की थी. वो कहती हैं,” उसकी वजह से ही मैं जिंदा हूं.” रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयुष्मान ने ही सुनीता का हाल एक दोस्त को बताया और उनसे मदद मांगी. उसके दोस्त ने तब पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद सुनीता को बचा लिया गया.

महिला की बहन और देवर को कथित तौर पर उसकी पीड़ा के बारे में सूचित किया गया था, लेकिन उन्होंने उसे लेने से इनकार कर दिया. एक वीडियो में सुनीता कहती है कि जब वह बेहतर हो जाएगी तो वह आगे की पढ़ाई करना चाहती है.

सुनीता का रांची के रिम्स में इलाज चल रहा है. पुलिस को जल्द ही उसका बयान दर्ज करने की उम्मीद है, जिसके बाद वे सीमा पात्रा को गिरफ्तार करने के लिए आगे की कार्रवाई कर सकते हैं.

हे अत्याचार के बारे में जानकारी दी। सूचना पर अरगोड़ा थाने में शिकायत दर्ज की गई। इसके बाद रांची पुलिस और जिला प्रशासन की टीम ने सुनीता को रेस्क्यू किया।

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान की प्रदेश संयोजक रही सीमा
सीमा के पति महेश्वर पात्रा राज्य में आपदा प्रबंधन विभाग में सचिव रहे हैं और विकास आयुक्त के पद से रिटायर हुए हैं। सीमा भाजपा नेता भी रहीं। उन्हें पार्टी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का प्रदेश संयोजक भी बनाया था।

एससी-एसटी धाराओं के तहत मामला दर्ज
सीमा पात्रा के खिलाफ रांची के अरगोड़ा थाने में एससी-एसटी की अलग-अलग धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। साथ ही आईपीसी की धाराओं में भी केस दर्ज किया गया है। हटिया डीएसपी राजा मित्रा को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। पुलिस पीड़ित के मेडिकली फिट होने का इंतजार कर रही है ताकि बयान दर्ज कराया जा सके। सुनीता की सुरक्षा में दो महिला पुलिसकर्मियों को भी लगाया गया है।

गोवा पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं परिवार, कहा- ‘…तो जाएगे HC का दरवाजा’

Dumka News: लड़की से रेप, पेड़ से लटकती मिली लाश, आरोपी अरमान अंसारी गिरफ्तार

By Nishant