Sun. Dec 4th, 2022
tower 1
Spread the love

ट्विन टावर ध्वस्त :

नोएडा में सुपरटेक ट्विन टावर को ध्वस्त कर दिया गया है. 3700 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल कर इसे जमिंदोज कर दिया गया है. आइये आपको बताते हैं अब मौके पर क्या हालात हैं

Twin Towers Demolition Video: नोएडा के सेक्टर 93ए में सुपरटेक ट्विन टावर्स को आधुनिक इंजीनियरिंग के इस्तेमाल से आज कुछ ही सेकंड में ध्वस्त कर दिया गया. दोनों टॉवर के ध्वस्त होते ही मौके पर धूल का विशाल गुब्बार देखने को मिला. अब ट्विन टॉवर की जगह सिर्फ मलबा है और आसपास के इलाकों में सिर्फ धूल ही धूल. अब पूरे नोएडा में एयर पॉल्यूशन की चिंता बढ़ गई है. अधिकारियों के हरी झंडी दिखाने के बाद हाउसिंग सोसाइटी में रहने वाले 5,000 लोग अपने घरों को लौटना शुरू कर देंगे. आइये आपको बताते हैं और तस्वीरों में दिखाते हैं ट्विन टावर्स के ध्वस्त होने के बाद वहां के हालात कैसे हैं.tower new 1

ट्विन टावर मलबे में तब्दील

ट्विन टॉवर के ध्वस्त होने के बाद मौके पर हर तरफ मलबा ही दिख रहा है. आसपास की इमारतों में लगे विशाल पर्दे फटे हुए दिखाई दिए हैं. इन फटे पर्दों को देख यह कहा जा सकता है कि ट्विन टॉवर के पास की इमारतों थोड़ा बहुत नुकसान हुआ होगा. लेकिन इस बारे में किसी भी अधिकारी ने अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया है.

धूल पर नियंत्रण करने के प्रयास

ट्विन टॉवर के ध्वस्त होने के बाद मौके पर धूल को जल्द से जल्द हटाने के प्रयास किए जा रहे हैं. इस क्रम में जगह-जगह एंटी स्मॉग गन लगाई गई है. इसके माध्यम से धूल पर पानी की फुहार कर प्रदूषण नियंत्रिय करने के प्रयास किए जा रहे हैं.

नोएडा CEO ने क्या कहा?

नोएडा की CEO ऋतु माहेश्वरी ने कहा है कि ट्विन टावर के ढहने से आसपास की हाउसिंग सोसाइटियों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है. उन्होंने कहा कि मलबा सड़क की तरफ भी आया है. एक घंटे में स्थिति का बेहतर अंदाजा हो जाएगा. उन्होंने कहा कि मौके पर साफ-सफाई का काम तेजी से किया जा रहा है. गैस और बिजली की आपूर्ति भी जल्द ही बहाल की जाएगी. इसके बाद ही लोगों को सोसाइटी में आने दिया जाएगा. लगभग शाम 6.30 बजे के बाद आसपास की सोसाइटी में आने-जाने की अनुमति दी जा सकेगी.

By Nishant